Header Ads

पायरिया से राहत लिए करें नीम का दातुन





नीम में छुपे गुणों का लाभ उठाने के लिए इसके बारे में जानना जरुरी है।  यह जहां होता है, अपने आसपास के माहौल को शुद्ध और हमारी सेहत के अनुकूल बनाए रखता है।  इसकी पत्तियां, टहनियां हमारी अनेक बीमारियों को दूर करने में दवा का काम करती है।

Image result for nim tree images

  • निबोली का चूर्ण सुबह समय पानी के  लेने से बवासीर में लाभ होता है। 
  • मच्छरों  से बचने के लिए नीम के पत्तों का धुआं करना या नीम का तेल लगाना फायदेमंद होता है। 
  • त्वचा से सम्बंधित समस्या है तो पानी में दो बून्द नीम का पानी मिला कर नहाएं।  नीम का पानी तैयार करने के लिए आता लीटर पानी में 50 ग्राम पत्तों को खूब उबाले और पीर छान कर एक बोतल में रख लें।  
  • नीम के पत्तों को पीस कर पेस्ट बना कर चेहरे पर लगाए।  थोड़ी देर बाद चेहरा धोएं।  कुछ समय तक नियमित रूप से ऐसा करे।  त्वचा चमक जाएगी। 
  • भूख न लगती हो या खाने की इच्छा न होती हो तो नीम की कोमल पत्तियों को घी में भून कर खाएं।  भूख जग जाएगी और बदहजमी दूर होगी। 
  • नीम के रस में सेंधा नमक मिला कर मंजन करने या इसकी कोंपलों को पानी में उबाल कर कुल्ला करने से दांतों की सभी बीमारियां दूर होती है। 
  • किसी भी तरह का घाव भरने के लिए नीम के तेल में थोड़ा-सा कपूर मिला कर लगाने से लाभ होता है। 

वैद्य हरिकृष्ण पांडेय 'हरिश'


कोई टिप्पणी नहीं