Header Ads

नीम का वृक्ष अनेक रोगों को दूर करता है


नीम के वृक्ष हर कई प्रसिद्ध है नीम में कई औषधीय गुण पाए जाते है ।नीम हमको प्रकृति की देन है नीम एक बहुत अच्छी वनस्पति है भारत में नीम के औषधीय गुण से सब अवगत है नीम हमारे लिए पूजनीय और विशिष्ट वृक्ष है । नीम स्वाद में कड़वा जरुर होता है पर इसके गुण अधिक मीठे होते है इसमें कई तरह के कड़वे व स्वास्थ्यवर्धक पदार्थ मौजूद होते है तभी कहा जाता है एक नीम और सौ हकीम दोनों बराबर है । 






·       सिर दर्द में नीम का रस नाक़ में डालने से लाभ मिलता है
·       जिनके जोड़ों में दर्द रहता है उनको नीम की छाल को पानी में घिस कर दर्द वाली जगह लगाने से फ़ायदा मिलता है
·       कफ में नीम के फूलों का सेवन करने से कफ में लाभ होता है
·       नीम का रस कान में डालने से कान का दर्द ठीक होता है
·       जिनको अस्थमा हो उनको नीम के तेल को पान में लगा कर चबाने से अस्थमा में फ़ायदा मिलता है
·       नीम के पत्तो को दही में घिस कर दाद पर लगाने से लाभ होता है
·       सब्जी बनाते समय नीम के पत्तो का छोक लगाये इससे पेट के कीड़े नष्ट होते है
·       नीम के पत्तो को घिस कर चेहरे पर लगाने से चेहरे के कील-मुहांसे ठीक होते है और चेहरे की रंगत में निखार आता है ।
·       नीम का रस सिर में लगाने से जुओं से छुटकारा मिलता है ।
·       नीम के वृक्ष की दातून करने से दांतों के दर्द में आराम मिलता है एव दांत व मसूड़े मजबूत बनते है और दातों में कीड़े नही लगते ।
·       चर्म रोग होने पर नीम के तेल की मालिश करनी चाहिए ।
·       नीम की पत्तियों को चबाने से मुहं की दुर्गंद दूर होती है एवं त्वचा में निखार आता है
·       नीम के तेल का दिया जलने से घर में मच्छर नही होते हैं ।
·       नीम के पतों को जलाने से घर के मच्छर नष्ट होते है और मलेरिया से बचाव होता है ।
·       नीम का लैप बना कर बालों में लगाने से बाल कम टूटते है और स्वस्थ रहते है ।
·       नीम के बीजों को पिस कर उनका चूर्ण बना ले और रात में ख़ाली पेट गुनगुने पानी के साथ ले इससे बवासीर में आराम मिलता है
·       मधुमेह में नीम की निबोली का चूर्ण नियमित रूप में लेन से मधुमेह में लाभ होता है ।
·       फोड़े-फुंसी में नीम का तेल और कपूर मिक्स कर लगाने में ये लाभदायक होता है।
·       सूजन होने पर नीम के तेल से मालिश करे ।
·       नीम के पतों को कपड़ो और अनाज में रखा जाता है क्योंकि नीम के पतों से कीड़े मर जाते है।
·       नीम की निबोली का तेल जले पर लगाया जाये तो इससे घाव जल्दी भर जाता है। 
·       नीम के पत्तो का रस आंख में डालने से आंख आने की बीमारी से छुटकारा मिलता है।


आप सभी से अनुरोध है की नीम जैसी औषधी का जरुर प्रोयग करे क्योंकि नीम के उपयोग से लाखों लोगो को रोजगार मिलता है और अपने प्रगतिशील भारत का निर्माण करे ।

कोई टिप्पणी नहीं