Header Ads

इन उपायों के द्वारा आप चाय पीने से होने वाले नुकसानो से बच सकते हैं


चाय हमारी दैनिक दिनचर्या का एक हिस्सा बन चुकी है और इससे हमारी दैनिक दिनचर्या से हटा पाना काफी मुश्किल है लेकिन इतना भी मुश्किल नहीं है जितना आप सोचते हैं। नशा चाहे शराब का हो या फिर चाय का नशा तो नशा ही होता है और यह स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक होता है। कई बार यह होता है कि हम बिना चाय के काम भी नहीं कर पाते हैं यह किसी भी रूप से सही नहीं है क्योंकि अगर हम अपने शरीर को किसी चीज के प्रति अधिक बना लेंगे तो यह हमारे स्वास्थ्य पर हानिकारक प्रभाव डालेगा।



लेकिन आज हम आपको बताएंगे आप किस प्रकार चाय पीने से हमारे स्वास्थ्य पर होने वाले हानिकारक प्रभावों से बच सकते हैं -

@. ग्रीन टी का इस्तेमाल करें -
ग्रीन टी का स्वाद पीने में चाहे जैसा ही होता है लेकिन यह हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभदायक होती हैं। यह भी हमारे शरीर को चाय की तरह एक एनर्जी प्रदान करती हैं लेकिन यह चाय के जितना हानिकारक नहीं होती है। अगर आप बहुत जल्द चाय छोड़ना पसंद नहीं करते हैं तो आप ग्रीन टी कब पीना शुरू कर दें यह आपको चाहे जैसी फीलिंग दिलाएगी और स्वास्थ्य को बेहतर बनाएगी।
@. चाय पत्ती को ना उबाले -
अगर आप चाय बनाते समय चाय पत्ती को दूध डालने से पहले कुछ समय तक ना उबाले तो यह आपके शरीर के लिए हानिकारक नहीं होगा। चाय पत्ती हमारे शरीर के लिए एक दर्श का काम करती हैं जिसे हम एनर्जी समझते हैं। इसके लिए बेहतर यही होगा कि आप चाय बनाते समय चाय पत्ती को ज्यादा देर तक उबाले नहीं।
@. दूध और चाय पत्ती को अलग-अलग उबालें -
दूध और चाय पत्ती को साथ में उबालने पर यह एक प्रकार का निकोटीन बना लेती हैं जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल भी लाभदायक नहीं है। इससे बचने के लिए आप हो सके तो दूध और चाय पत्ती को अलग-अलग उबालें फिर उनको एक ही कप में मिक्स कर लें। इससे आपको चाय से सीधा होने वाले नुकसान से बच पाएंगे।
@. भूखे पेट चाय ना पिएं -
आप कभी भी चाय पी रहे हो चाहे सुबह हो या शाम कृपया करके भूखे पेट चाय का सेवन ना करें । भूखे पेट चाय का सेवन सीधा हमारे लीवर पर असर करता है। इससे बचने के लिए आप चाय के साथ ब्रेड बिस्किट या फिर कुछ भी नाश्ता कर सकते हैं। चाय के साथ हल्का नाश्ता करना आपके स्वास्थ्य के लिए बेहतर होगा।
@. ज्यादा चाय ना पिएं -
अगर आप दिन में कम से कम 5 से 7 बार चाय पीते हैं तो ऐसा बिल्कुल भी मत कीजिए। ऐसा करने से आप चाय के आदी हो जाएंगे और आप बिना चाय अपना काम नहीं कर पाएंगे। इससे बचने के लिए आप चाय को एकदम से छोड़े नहीं बल्कि उसकी लिमिट तय कर लीजिए। यानी कि आप 1 दिन में केवल एक से दो कप चाय पीजिए इससे ज्यादा बिल्कुल भी नहीं। धीरे-धीरे आप इस लिमिट को कम करते करते ना मैं भी बदल सकती हैं।

कोई टिप्पणी नहीं