Header Ads

नकसीर का इलाज धनिया

धनिया भी हमारे यंहा के चुनिन्दा मसलों में से एक है, दाल सब्जी में सुगन्ध और स्वाद के लिए इसका खूब इस्तेमाल होता है।  लेकिन इसके गुण  को बहुत कम लोग जानते है। 








  • धनिया के हरे पत्तों की चटनी भूख बढ़ाती है तथा पाचन करती है 
  • सूजन वाले स्थान पर धनिया पीस लेप करने से सूजन मिटती है। 
  • सर दर्द में इसका लेप लगाना आराम देता है चन्दन की तरह मस्तिष्क में तिलक की तरह की तरह लेप करने से शीतलता प्रदान करता है।  
  • धनिया के सेवन से प्यास काम लगती है।  भूख बढ़ती है।  हाजमा सही रहता है।  मुँह के छालों और गले के रोगों  में हरे धनिये का निकाल कर कुल्ले/गरारे करने से लाभ होता है।  
  • नाक से नकसीर आने पर हरे धनिया की पत्तियों का रस दो-दो बून्द नाक में टपकाने से खून गिरना बंद होता है।  
  • दुखती आँखों में हरे धनिये की पतियों का रस डालने से आराम मिलता है।  सर दर्द में सूखा धनिया पानी के साथ पीस कर लगाने से चैन मिलता है।  


वैद्य हरिकृष्ण पाण्डेय 'हरीश ' 

कोई टिप्पणी नहीं