Header Ads

दमा रोग से है परेशान अपनाए ये घरेलू उपचार

दमा रोग से है परेशान अपनाए ये घरेलू उपचार   (Dama Rog Ke Gharelu Upchar)


मनुष्य जीवन में सबसे घातक बीमारी दमा ही है| जब भी किसी मनुष्य को यह बीमारी लगती है तो वह कोई भी काम अच्छी तरह से नहीं कर पाता है उसे हर काम करने में सास  फूलने लगती है| यह एक लाइलाज बीमारी है| इस बीमारी का इलाज आज तक संभव नहीं है| पर कुछ घरेलू उपायों की वजह से दमा से राहत मिलती है| इन उपायों को कई सालों पहले से हमारे बुजुर्ग लोग अपनाते आ रहे हैं| घरेलू उपाय सांस की बीमारी से राहत दिलाते हैं| कुछ ऐसे ही घरेलू उपाय आज हम आपको बताने वाले हैं अपनी सांस की बीमारी को कम कर सकते हैं|





दमा रोग होने का कारण  (Dama Rog Hone Ke Karan)


  दमा कई कारणों से होता है| कुछ लोगों को यह समस्या जन्मजात होती है और कुछ लोगों को उम्र बढ़ने के साथ-साथ यह बीमारी लगने लगती है| इस बीमारी का इलाज अभी तक संभव नहीं है और इस बीमारी को कम करने के लिए कुछ घरेलू   उपाय है| जिनसे दमा को कम किया जा सकता है| धूल मिट्टी में ज्यादा रहने वालों को भी  सांस की बीमारी होती है|

दमा रोग उपचार (Dama Rog Ke Upchar in Hindi)

सांस की बीमारी को कम करने के लिए कुछ घरेलू उपचार है| इन घरेलू उपचारों का प्रयोग करके सांस की बीमारी को कम किया जा सकता है| यदि आपको भी सांस की बीमारी है| तो आप हमारे द्वारा बताए गए तरीकों को अपनाकर  बीमारी को कम कर सकते हैं| मेथी के दाने और काली मिर्च के  दानों को पीसकर उसे दूध में डालकर पीने से सांस की बीमारी कम  हो जाती है| बकरी का मांस खाने से भी सांस की बीमारी कम हो जाती है|

सावधानियाँ

  1. सांस की बीमारी वाले लोगों को ठंडे पानी का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए उन्हें गर्म पानी ही पीना चाहिए और गर्म पानी से नहाना चाहिए|
  2.  ठंडी चीजों का इस्तेमाल कम से कम करना चाहिए|
  3.  धूल मिट्टी से दूर रहना चाहिए|
  4.   कोल्ड ड्रिंक का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए|
  5.  तली-भुनी चीजों को कम से कम खाना चाहिए|
  6.  मक्खन का इस्तेमाल कम से कम करना चाहिए|

आहार और खानपान 

 सांस की बीमारी वाले लोगों को अपने आहार और खानपान में ध्यान रखना चाहिए उन्हें खाने में तली हुई चीजें नहीं खानी चाहिए और  ठंडे पानी का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए| उन्हें हमेशा गर्म ही चीजों को खाना चाहिए| ठंडे फल भी उनके शरीर के लिए नुकसानदायक होंगे| कुछ फल जो शरीर को गर्म करते हैं उनका इस्तेमाल  सांस की बीमारी के लिए लाभदायक होगा|

पिए उबला हुआ पानी

 सांस की बीमारी वालों को ठंडे पानी का इस्तेमाल बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए| ठंडे पानी का इस्तेमाल करने से उन्हें लगातार सांस की समस्या आ सकती है| इसलिए उन्हें हमेशा ही  गर्म पानी का इस्तेमाल करना चाहिएऔर गर्म पानी से नहाना चाहिए|


कोई टिप्पणी नहीं