Header Ads

जाने क्यों बुजूर्ग लोग जमीन में बैठकर खाना खाते है

क्या आप जानते हैं पुराने जमाने के लोग जमीन में बैठकर खाना क्यों खाते थे| अभी भी हमारे  घरों में बुजुर्ग लोग केवल जमीन पर बैठकर ही खाना खाते हैं| जमीन में बैठकर खाने से काफी लाभ होते हैं| विज्ञान में भी इसकी पुष्टि हो चुकी है| जमीन में बैठकर खाने से हमारे शरीर को काफी मात्रा में लाभ होता है| हमारा शरीर का वजन कभी नहीं बढ़ता है| और हमारी  तौध कभी आगे नहीं आती हैऔर हमें सांस की बीमारी की समस्या नहीं होती है|   जमीन में बैठकर खाने से पाचन तंत्र भी हमेशा ठीक रहता हैऔर  जमीन में बैठकर खाने से  हम केवल सीमित मात्रा में खाना खाते हैं जो कि शरीर के लिए काफी लाभदायक है|





वजन नहीं बढता

 जमीन में बैठकर खाने से हमारा वजन कभी नहीं बढ़ता है| जिन लोगों को भी अधिक वजन बढ़ने की समस्या आती है उन्हें हमेशा जमीन पर बैठकर खाना खाना चाहिए| जिससे उनका वजन हमेशा सीमित  रहेगा| और वे हमेशा तंदुरुस्त बने रहेंगे| अभी भी बुजुर्ग लोग जमीन में बैठकर खाने की सलाह देते हैं|
खाना पाचन होता है
 जमीन में बैठकर खाने से खाना अच्छी तरह से पाचन  होता है| शास्त्रों के अनुसार जमीन में बैठकर खाने वालों को कभी भी किसी भी प्रकार की समस्या नहीं आती है| उनका पाचन तंत्र हमेशा सही बना रहता है| जमीन में बैठकर खाना एक ऐसी मुद्रा है जो हमारे पूरे शरीर को  कंट्रोल करती हैजिससे हम केवल सीमित मात्रा में ही खाना खा पाते हैं| और हमारा वजन हमेशा  सीमित रहता है|
परिवार को बाधता है
 जमीन में बैठकर खाना परिवार को एक नए बंधन के रूप में बढ़ता है| जमीन में बैठकर खाने से परिवार में प्यार बढ़ता है| हमारे बुजुर्ग लोग  अभी भी  खाना बनने पर पूरे परिवार को एक साथ जमीन में बैठा कर खाना खिलाते हैं| इससे शरीर तो स्वस्थ रहता ही है और पूरे परिवार में प्यार बढ़ता है| परिवार हमेशा खुशहाल बना रहता है| यदि आप भी चाहते हैं आपका परिवार खुशहाल बना रहे हैं तो आप हमेशा पूरे परिवार के साथ बैठकर खाना खाएं|
पेट नही बढ़ता
  जमीन में बैठकर खाने से हमारा पेट अंदर की तरफ दबा रहा है जिससे  हम केवल सीमित मात्रा में खाना खाते हैं| इससे हमारा पेट कभी भी बाहर नहीं आता है| यदि आपने देखा हो तो हमारे बुजुर्ग लोगों का पेट हमेशा अंदर ही रहता है बाहर की तरफ नहीं निकला होता है| पर आजकल छोटे-छोटे बच्चों का भी पेट बाहर की तरफ निकला होता है| हमें अपनी आने वाली नई  पीढ़ी को भी जमीन में बैठकर खाना  खिलाना चाहिए जिससे उनकी हमेशा यह आदत बनी रहे और वे  भी हमेशा स्वस्थ बने रहे|


कोई टिप्पणी नहीं