Header Ads

मोतियाबिंद का इलाज करे अब घर पर ही (Cataract Treatment at Home)

मोतियाबिंद (Cataract) एक सामान्य बीमारी है| उम्र बढ़ने के साथ-साथ मोतियाबिंद हो जाना आम बात है| 50 वर्ष से ऊपर के लोगों को  मोतियाबिंद की समस्या आती है| पर आज के जमाने में लोगों को भी  मोतियाबिंद की समस्या आ रही है इसका कारण शरीर में होने वाली कमजोरी और उनके  खानपान में खान पान में कमजोरी है| कमजोर लोगों के शरीर में यह बीमारी काफी तेजी से आती है 50 वर्ष से अधिक लोगों के शरीर में कमजोरी ज्यादा होने की वजह से उनको यह बीमारी होती है पर आजकल छोटी सी उम्र में ही लोगों को यह बीमारी आने लगी|





पहचान

  1.  सारी चीजें धुधली सी दिखने लगती है|
  2. रात को कुछ भी नहीं दिखाई देता|
  3. कॉपी में लिखे अक्षर डबल  और  धुधले दिखाई देने लगते हैं|
  4. लाइट के बल्ब के निकट  काली गेरिया नजर आती है|
  5. डबल दिखाई देने लगती है और धुधली भी  दिखने लगती है|

 लक्षण


50 से अधिक लोगों को धुंधला दिखाई लगने  लगता है| यह मोतिया बिंदु का लक्षण हो सकता है| मोतिया बिंदु में लेंस अपनी  पारदर्शिता को खो देता है और मेरे आंखों में सारी   धुधली दिखने लगती हैआंखों के सामने बादल जैसी धुंध  बार-बार नजर आने लगती हैयह इसलिए होता है क्योंकि हमारी आंखों के लेंस में होने वाले ऊतक कमजोर पड़ जाते हैं जिसकी वजह से लेंस अपनी पारदर्शिता को खो देते हैं| और हमें सारी चीजें धुंधली सी दिखाई देने  लगती है|

उपचार


 मोतिया बिंदु को दवाइयों से ही  ठीक नहीं किया जा सकता| इसको ठीक करने के लिए या तो घरेलू उपायों को भी अपना सकते हैं  या फिर चश्मा पहन लेना ही उचित होगा| घरेलू उपायों से इसको ठीक करना बहुत ही आसान है इसके लिए सुबह के समय हरी घास में नंगे पांव चलने से आंखों की रोशनी दोबारा वापस आ जाती सुबह के समय धूप में बैठने से भी आंखों में रोशनी वापस आने लगती है| ओस की बूंदों में  नंगे पांव चलने से इस बीमारी से छुटकारा पाया जा सकता है| और खाने में हरी सब्जियों का इस्तेमाल करने से भी इस बीमारी से बचा जा सकता है| हरी सब्जियों में काफी मात्रा में विटामिंस होते हैं जिसकी वजह से हमारी आंखें तेज होती हैं| उम्र बढ़ने के साथ-साथ हमें अपने खानपान को भी बढ़ाना होगा जिसकी वजह से हमारे शरीर में  बीमारियों का प्रभाव ना हो| और हमेशा ही स्वस्थ बने रहें|  

हमें अपने खाने में फलों का इस्तेमाल भी करना चाहिए फलों में काफी मात्रा में विटामिन होते हैं जिसकी वजह से हमारा शरीर हमेशा स्वस्थ बना रहता है और  आंखों की समस्या नहीं आती है| आजकल लोगों को बचपन में ही आंखों में समस्या आने लगती है इसका प्रमुख कारण उनके खानपान में कमी हैबच्चों को खाने के लिए भरपूर मात्रा में पौष्टिक आहार देनी चाहिए|


कोई टिप्पणी नहीं